फिल्मचेष्टा इश्कध्यानम् घोरनिद्रा तथैव च। मुर्गाहारी बोतलधारी विद्यार्थी पंच लक्षणम्|| आधुनिक विधार्थी जीवन के पांच लक्षणों की पुष्टि भारतीय किसानों के बीए, बी एड, शिक्षा धारी व्हाट्स एप्प ग्रुपों के एडमिन पुत्रों द्वारा की गयी है। श्लोक को युग में एवं स्वयं के साथ घटित घटनाओं के आधार पर रचा है। यही एक कारण है

Read More »

New Hindi Story: दूध की लालसा – कहानी (विजय सिंह मीणा) बाण गंगा नदी पूरे उफान पर थी । उसके दोनों किनारों पर दूर दूर तक अथाह जल राशि दिखाई दे रही थी । सावन-भादों के महीने में हर साल यह अपने पूरे यौवन पर होती  है । आसपास के खेत ज्वार और बाजरा की

Read More »

गाँव,राज्य,देश,समाज,और विश्व की रीद प्राचीन समय से किसान को माना जाता रहा है। हिन्दुस्तान अपने आप में कृषि प्रधान कहा जाने वाला देश रहा है।देश के विकास को एक नूतन रूप देने हेतु किसान को ही सबसे अहम भूमिका में माना जाता है।जिस तरह एक पिता अपने पूरे परिवार का ख्याल रखता है उसी तरह

Read More »