#राजनीति के चक्कर में अपने संबंध बर्बाद ना करें। अगर आपका साथी आपसे अलग #विचारधारा रखता है तो इसका कत्तई मतलब ये नहीं है कि वो आपका #विद्रोही है। जब किसी को #ख़ून की जरूरत होती है तो शायद ही किसी #पार्टी का नेता ख़ून देने जाता हो लेकिन आपका दोस्त ज़रूर जाएगा। जो आपके लिए इतना कर सकता है उससे #राजनीतिक बात पर बहस ना करें। कहीं ऐसा ना हो कि आप #तर्क तो जीत जाएं और #संबंध हार जाएं।
#धन्यवाद🙏

Subham Lamba Ashish Ghorela Parmod Bhishnoiशुभम् लांबा

गन्दे परिणाम राजनीति के – Subham Lamba
5 (100%) 4 votes

Leave a comment

Leave a Reply