शहादत का अपमान – जयकृश्ना कुमार

शहादत का अपमान – जयकृश्ना कुमार

शहादत का अपमान आज फिर पुरे गॉव में कोलाहल है, गॉव के सभी लोग चिंतित है. न जाने क्यों उन सभी को एक अनजाना भय सताया जा रहा है. गाँव में दीनानाथ का परिवार सबसे ज्यादा व्याकुल क्योंकि उस घर का एकलौता बेटा मोहन फ़ौज की नौकरी भारत-पाकिस्तान के बोर्डर पर करता हैA टीवी और
Complete Reading

मैं कर नहीं दूंगा – संजय सिंह राजपूत

दिन भर की भागा दौड़ी के बाद शाम को रमुआ अपने घर आया। उसका बेटा घेंघा बहुत सवाल पुछा करता था। रमुआ की पत्नी भाग्यमति अनपढ़ थी। वह दिन भर घर का काम करती रहती। घेंघा स्कूल से घर वापस आने के बाद अपना गृहकार्य कर रहा था। अपने स्वभाव के अनुसार उस दिन भी
Complete Reading

सच्चा प्रेमी – जयकृश्ना कुमार

सच्चा प्रेमी फ़ोन की घंटी बजी बजी ट्रिग्न ट्रिंग——— . रमेश ने आकर फ़ोन उठाया और अपनी प्रेमिका इशिका के फोन को देखकर वह बड़ा खुश हुआ और बोला हाँ बोलो! बोलो बेबी! क्या बात है? क्या तुमने हम-दोनों के रिश्ते के बारे में अपने पापा से बात की? वह क्या बोले? इशिका- हाँ हेल्लो
Complete Reading

बेस्वार्थ – चन्दन कुमार

यह कहानी लगभग आज से पंद्रह साल पुराणी हैं| जो गाँव में घटित एक सत्य घटना हैं और उस गाँव का नाम रुलही नंबर १ हैं| यह गाँव बिहार के पूर्वी चंपारण जिला के मोतिहारी शहर से सात किलोमीटर दूर स्थित हैं. यह वही भूमि हैं जहाँ गाँधी जी के द्वारा चंपारण सत्याग्रह किया गया
Complete Reading

जुनुन हो तो असंभव संभव मे वदल जाते है – पूजा कुमारी

कहानी हम उस छोटी- सी गाँव की कहते है| जहाँ एक लड़की अपनी पहचान ही नही वल्की इस दुनिया मै अपनी मन की बात भी कह दी है| वह करीब 14 साल की थी ओर वह 10 मै पढ़ती थी वह जब सोती थी तो उसे हमेशा सपने मै एक लड़का नजर आते थे| वह
Complete Reading

इस देश में अजीब कहानी है – अनिल कुमार सागर

भाजपा के पास विजय रुपाणी, जय शाह, शौर्या डोभाल, जयंत सिन्हा, आर के सिन्हा, मुकुल रॉय, सुखराम, सुशील मोदी, रेड्डी ब्रदर्स, यदुरप्पा, महेश शाह, अनार पटेल, रमन सिंह, अमित शाह इत्यादि भ्रष्टाचार के आरोपी नेता है, फिर भी वह देश की सबसे “ईमानदार पार्टी” है ! भाजपा के पास आसाराम, गुरमीत राम-रहीम, राघव जी और
Complete Reading

तुमसरकारी चोर मैं घर का चोर – प्रदीप सक्सेना

पैंतालिस बर्ष के अतुल गर्ग विकास प्राधिकरण मैं सरकारी अधिकारी हैं जन्ता , ठैकेदारों से कैसे मोटी रिश्वत ली जाये इसी का ताना बाना बुनते रहते थे क्यों कि मन्त्रीयों ओर उच्च अधिकारियों को भी रूपया पहुंचाकर उन्हैं पृसन्न रखना था रात के बारह बजे हैं उनकी चालिस बर्षीय पत्नि नमिता बेखबरी की नींद सोये
Complete Reading

राजनीती का सच – रविकांत अग्रवाल

दोस्तों वर्तमान समय में राजनीति की हालत दयनीय हो चुकी है ,कुछ असामाजिक तत्वों के कारण लोगों का राजनीति से विश्वास उठता जा रहा है । ना तो राजनीति में विश्वास बाक़ी रहा ना कोई उमीद । झूठे जुमलेबाज़ी से लोगों के सपनो को साकार करने की बात कहकर सताधिकार पा लिया जाता है ओर
Complete Reading

ईमानदारी की परीक्षा (प्रेरणादायक कहानी)- जितेन्द्र वर्मा

एक गांव में एक पण्डित रहा करता था।गांव में पुराणों का ज्ञान प्रचार करके दान आदि से गुजारा किया करता था।पण्डित जी का बोलबाला गाँव में निरंतर बढ़ता जा रहा था।हर गांव वासी उनका आदर करता था।पण्डित जी के बढ़ते बोलबाले से हर कोई प्रभावित था।गांव के ही एक बस कंडक्टर ने पंडित जी की
Complete Reading

कलावा – राहुल रेड

दीपक ने अँगड़ाई लेते हुए अपनी पत्नी शीला से कहा.. दोपहर के समय दरवाजे पर कोई दस्तक दे रहा है जरा देखो तो कौन आया है ये लोग छुट्टी के दिन भी आराम नहीं करने देते। शीला ने दरवाजा खोला तो देखा की राधेश्याम का लड़का मोहित था। मोहित ने झुककर शीला के पैर छुए
Complete Reading

Create Account



Log In Your Account