अलबादी छौरे ने लिखी कविता

अलबादी छौरे ने लिखी कविता

सरकारी स्कुल के सीसे फोडे इथाई की छोडी ना ईंट जोड कुएँ नाम के रहगे चोरी त पडोसियाँ की छोडी ना ईँख जाण बुजके न नहर तोडदी सारा गाम के खेत दिए सीँच घरा मेँ पाणी चडग्या फेर पाटगी फिँच मजे-मजे म सारा देश लिया लुट कोण माहरा के बिगाडगा- 2 अह्म हैँ इस देश
Complete Reading

Create Account



Log In Your Account