हम जब ज़िन्दगी में आगे बढ़ते है-दीशा शाह

हम जब ज़िन्दगी में आगे बढ़ते है-दीशा शाह

हम जब ज़िन्दगी में आगे बढ़ते है तब हम गिरते है .तब हमारे अंदर दर बेथ जाए तोह हम आगे नहीं बद पाते है . हमारा आत्मविश्वास का विकास भी नहीं होता है . हम ज़िन्दगी से भागने लगते है . ज़िन्दगी को समज नहीं पाते है . ज़िन्दगी में दर से बहार निकलने का रास्ता हमें पता ही नहीं होता है .
दर से बहार निकलने का रास्ता केवल एक ही है आप दर को स्वीकार करो और आगे बढ़ो ज़िन्दगी में . दढ़ता से जिओ जिंदगी. इससे हमारा आत्मविश्वास का विकास होगा. लेकिन ये हम नहीं करते है . .जैसे हम को मैथ्स नहीं आता तोह पहले हम डरते है . जब नहीं आता है कोई चीज नहीं तोह वो चीज हमें मुश्किल लगती है .जब हम सिख जाए तब वो चीज हमें आसान लगती है .
ठीक ये तरीका हमें लागु करना चाहिए . जब हमें पता चल जाए कैसे मुश्किल चीज आसान लगती है फिर हम सिख जाते है और हमें मुश्किल चीज फिर से करते है . इससे हमारा आत्मविश्वास का विकास होता है . और कभी भी कोई भी चीज करने में ना नहीं होती हम आगे बढ़ते जाते है .

 

       Disha Shah  दीशा शाह
  पश्चिम बंगाल, कोलकाता

2+

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account