युवाओं में हैवानियतपन क्यो-रमेश मेहर राही

युवाओं में हैवानियतपन क्यो-रमेश मेहर राही

मंदसौर में 7 वर्ष की बालिका के साथ विभत्सपूर्ण एवं शर्मसार घटना के बाद फिर सतना के परसानिया गाँव में 4 वर्षीय बालिका के साथ 25 वर्षीय लड़के द्वार हैवानियतपूर्ण कुकृत्य किया गया जो कि मानवीयता को कलंकित व शर्मसार करता है।आखिर ये क्या हो रहा है युवाओं को। इतनी हैवानियतपन पर क्यो उतर रहे हैं।इनको परिवार,समाज,जाति धर्म किसी की परवाह नहीं , यहा तक कि कानुन का भी भय नहीं हैं।इनके जहन में ऐसे बेमेल कुकृत्य की भावना क्यों पनप रही है। इनके दिलोदिमाक में हैवानियतपन का नशा कहाँ से सवार हो रहा हैं।आज हमारे समाज के लिए यह ज्वलंत एवं गम्भीर प्रश्न खड़ा हो गया है कि आखिर ये बेमेल कुकृत्य घटनाऐ क्यो हो रही हैं? इनके पीछे क्या कारण हो सकते हैं? इस दुसाहस को अंजाम देने में कौन-कौन तथ्य सहयोगी हैं इस पर चिंतन आवश्यक है।मुझे लगता यह शोधनीय विषय होना चाहिए। दोषियों को फासी की सजा की मांग जायज है ,मैं भी इसका समर्थन करता हूँ और हमें आशा है कि ऐसा ही होगा। लेकिन क्या इसके बाद ऐसी घपनाऐं बंद हो जायेगी ! इसके बारे में समाज ,सस्थायें ,नेता, बुध्दिजीवियों और पत्रकारों(मिडिया)को गहराई से सोचना होगा ।

 

                  Ramesh Mehar Rahi रमेश मेहर राही

                 सुवासरा, मध्य, प्रदेश

 

 

 

2+

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account