Notification

बाल साहित्य

Devendra singh

Home » पंचतंत्र की कहानियां पंचतंत्र की कहानी: बोलने वाली गुफा | Bolnewali Gufa Panchtantra SOUMYA VYAS द्वारा लिखित FEBRUARY 5, 2021 Bolnewali Gufa Panchtantra बहुत पुरानी बात है, एक घने जंगल में बड़ा-सा शेर रहता था। उससे जंगल के सभी जानवर थर-थर कांपते थे। वह हर रोज जंगल के जानवरों का शिकार करता और …

Devendra singh Read More »

माझी राणी-रीना

माझी राणी नटखट बाळ जन्माला आला , म्हणाला मी न बोलत काही ए आई मला घे ना जवळ ,नकळत गाणा जरा अंगाई करू तिची आरती , प्रभू ने दिला आशीर्वाद होईल जग भारती , अरे ती होईल जग भारती (1) मला जाणवे माझी परी , आली आकाशातून चला तीला आभूषणे चढवून , नव वस्त्रांनी नटवून …

माझी राणी-रीना Read More »

माझी राणी-रीना

माझी राणी नटखट बाळ जन्माला आला , म्हणाला मी न बोलत काही ए आई मला घे ना जवळ ,नकळत गाणा जरा अंगाई करू तिची आरती , प्रभू ने दिला आशीर्वाद होईल जग भारती , अरे ती होईल जग भारती (1) मला जाणवे माझी परी , आली आकाशातून चला तीला आभूषणे चढवून , नव वस्त्रांनी नटवून …

माझी राणी-रीना Read More »

लघुकथाःःः गणतंत्र दिवस का आशयःः-वीरेंद्र देवांगना

लघुकथाःःः गणतंत्र दिवस का आशयःः सुबह का समय था। कड़ाके की ठंड पड़ रही थी। ठंडी से हाथ-पांव कांप रहे थे। आज स्कूल में पालक संघ के अध्यक्ष सहित कई अतिथि आनेवाले थे। लेकिन, फूलहार तो प्रभारी भूल गए थे। उनका स्वागत फूलहार के बिना कैसे होगा? यह प्रश्न गणतंत्र के प्रभारी शिक्षक को सालने …

लघुकथाःःः गणतंत्र दिवस का आशयःः-वीरेंद्र देवांगना Read More »

पर्यावरण-मानिकशा-चौहान

धरोहर है जो देश की , उसे स्वच्छ बनाना है| अपने वनों को हमने कटने से बचाना है| निर्मल जल के स्रोत होंगे औषधि का भण्डार होगा| जीव जन्तुओ का निवास रहेगा| जीवन सुख का आधार होगा| अगर ऐसा व्‍यवहार होगा, मानव की प्रकृती से प्यार होगा| जिधर भी दृष्टि जायेगी, कितना सुन्दर संसार होगा||

मजाक

रोहित एक शांत लड़का था। वो अपनी माँ के साथ रहता था,पिताजी तो पहले ही बीमारी से बिस्तर पर पड़े रहते थे और माताजी सडक के किनारे सब्जियां बेचा करती थीं। घर में एक छोटा भाई और दो बहनें थीं,घर में सबसे बड़े होने के नाते उसके ऊपर जिम्मेदारियां भी थीं। दिन में रोहित स्कूल …

मजाक Read More »

हाथी का बच्चा-एस आर-कुरैशी

एक पेड़ पर एक चिड़िया अपने पति के साथ रहा करती थी। चिड़िया सारा दिन अपने घोंसले में बैठकर अपने अंडे सेती रहती थी और उसका पति दोनों के लिए खाने का इंतजाम करता था। वो दोनों बहुत खुश थे और अंडे से बच्चों के निकलने का इंतजार कर रहे थे। एक दिन चिड़िया का …

हाथी का बच्चा-एस आर-कुरैशी Read More »

जादुई माचिस -एस आर-कुरैशी

स्कूल की छुट्टी हुई। सभी स्कूल गेट की ओर बढ़ रहे थे। अभेद परेशान सा दिख रहा था। रेहाना ने पूछा, तो उसने घबराते हुए बताया, “अगले हफ्ते से एग्जाम हैं, डर लग रहा है।” यह सुनकर रेहाना हंस पड़ी, “लगता है, तुम एग्जामोफोबिया के शिकार हो गए हो। मंथली टेस्ट में भी तुम ऐसे …

जादुई माचिस -एस आर-कुरैशी Read More »

आसमान का राजा-एस आर-कुरैशी

एक जंगल में एक बंदरिया रहती थी उसका एक छोटा सा बच्चा भी था । नन्हा बन्दर दिन भर अपनी मा के साथ उछल कूद करता रहता था । बंदरिया अपने बच्चे का बहुत ध्यान रखती थी हमेशा उसे अपने साथ रखती थी। एक समय बिल्कुल भी बारिश नहीं हुई और सभी जानवरो को खाने …

आसमान का राजा-एस आर-कुरैशी Read More »

एक छोटा नन्हा बंदर-किरंजनी

एक बार बसंत नामक गांव में अचानक से बंदरों का आगमन हुआ लोग उन सब से बहुत परेशान थे क्योंकि वह उनकी फसलों को खराब कर रहे थे और यही नहीं वह रात को उनके घर से सामान भी चुराते थे लोग परेशान होकर उन्हें लाठियों से मारते थे और अपने खेतों से भगाते रहते …

एक छोटा नन्हा बंदर-किरंजनी Read More »

बाल दिवस के लिए विशेषः पबजी प्रतिबंधित-वीरेंद्र देवांगना

बाल दिवस के लिए विशेषः पबजी प्रतिबंधित बिहार के गोपालगंज जिले में आनलाइन गेम पबजी में बार-बार हारने के बाद 14 वर्षीय छात्र हिमांशु कुमार ने फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। वह राजेंद्र नगर इलाके में रहता था। गोपालगंज केंद्रीय विद्यालय में 9वीं का छात्र था। उसके परिजनों के अनुसार, हिमांशु 13 मार्च की दोपहर …

बाल दिवस के लिए विशेषः पबजी प्रतिबंधित-वीरेंद्र देवांगना Read More »

Join Us on WhatsApp