नवीनतम देश-प्रेम रचनाएँ

डॉक्टर है भगवान
Disha Shah
डॉक्टर है भगवान कोरोना काल में डॉक्टर्स हमारे साथ थे डॉक्टर्स हमारे हीरो है डॉक्टर्स के वजह से मरीज की जान बचती
50933
Date:
05-07-2022
Time:
10:47
👏 मेरा देश फल... मेरा नाम 👏
Amit Kumar prasad
इस राष्ट्रवाद कि बगीयां के, कुसमित पुष्पों का नाज़ अज़र! ये ध्वज नहीं संघर्ष हिन्द का, ज़हां लोकतंत्र का नाम अमर!!
49843
Date:
05-07-2022
Time:
09:33
🤚 नई पहचान 🌷 हिन्दुस्तान ✍️
Amit Kumar prasad
है नई पहचान मेरी, और नया ये जहान है! गुल से हैं रौशन गुलिस्तां, शीद्दत के पथ परवान है!! है जहां मेहफ़ुज़ ज़ो,
48463
Date:
05-07-2022
Time:
10:45
करें योग रहें निरोग
Rambriksh, Ambedkar Nagar
कविता -करें योग रहें निरोग यदि जीवन में योग करेंगे जीवन भर निरोग रहेंगे। चिंता मन से दूर भगेगा तन सेहत मजबूत बन
48405
Date:
05-07-2022
Time:
07:48
जोश जवानी झांसी की तू भारत की अभिलाषा थी"
बी.पी.शर्मा
धन दौल्त कब मांगा उसने हां नारी प्रेम पुजारी थी। क्यों समझें हम अबला उसको वो सदियों से महारानी थी।। हम सत्य शील की
47762
Date:
05-07-2022
Time:
10:34
💖 अमन विश्व का तारा ✍️
Amit Kumar prasad
ऐ ज़मी शाहे वतन, आप पे दिल कुरबान है! कुरबान ज़ान भी गुल को तेरे, जिससे वतन गुलज़ार है!! है नुतन प्रभा का यह
47566
Date:
05-07-2022
Time:
10:59
💖 अमन विश्व का तारा ✍️
Amit Kumar prasad
ऐ ज़मी शाहे वतन, आप पे दिल कुरबान है! कुरबान ज़ान भी गुल को तेरे, जिससे वतन गुलज़ार है!! है नुतन प्रभा का यह
47566
Date:
05-07-2022
Time:
10:59
ये देश हैं हमारा
Rupesh Singh Lostom
ये देश हैं हमारा हम इस के संतान हैं मेरा मुल्क हिदुस्तान हैं न दूसरा हमारा लडेगें अंतिम सांस तक न समझना बेचारा
46460
Date:
05-07-2022
Time:
08:32
रक्तदान
Rambriksh, Ambedkar Nagar
कविता-रक्तदान जय जय रक्तदान हे! मानव धर्म-प्रान हे! मानव जान बचाता है तू, जीवन नया दिलाता है तू, जीवन दान कहाता है त
46078
Date:
05-07-2022
Time:
08:37
🙏 शांती - बीज ✍️
Amit Kumar prasad
कर रही गुलज़ार कलीयां, आपके ही नाम से! ये बना है पाक - स्थल, सारे जहां के धाम से!! ले रहा था नाम हरदम,
2226
Date:
05-07-2022
Time:
11:02
लक्ष्मी बाई
DIGVIJAY NATH DUBEY
धधक उठी जब ज्वाला नभ में धूल भरा अंधियारा उपजा जब लक्ष्मी बाई का अस्त्र दुश्मन की सेना को गरजा शिव का डमरू दमक गय
42477
Date:
05-07-2022
Time:
10:38
प्रदूषण
Rambriksh, Ambedkar Nagar
कविता-प्रदूषण नभ जल थल पर जगह जगह पर प्रकृति के हर कोने कोने पर्यावरण प्रदूषण तीन सुखमय जीवन है रहा छीन। हे मान
42191
Date:
05-07-2022
Time:
09:01