Notification

मुसिबत-रौनक-सिंह

प्यारे दोसतो ऐंव भाई,बहनो मैं आपको बताना चाहता हूँ। हमारे वर्तमान काल मे बहुत सी मुसीबतें आति हैं। हमें इन मुसीबतो से डरना नहीं डट कर सामना करना चाहीऐ।हमारे लेखक रविन्द्रनथ् ठाकुर जी ने कहा है:-
विप्दाओ से मुझे बचाओ,यह मेरी पार्थना नहीं
इस वाक्या से वह् कहना चाहते हैं।है भग्वन विप्दओ से आप मुझे बचाओ ऐसी पार्थना में कभी नहीं करुँगा।क्यूँँकि मूसिबत् का में डट कर सामना करना चाहता हूंँ।

जैसे वर्तमान में एक् महामारी फैली हुई है।हमें इस महमारी से डरना नहीं डट कर सामना करना हैं।क्योकी जब इंसान मुसीबत से दर जाता हैं तो उसे कभी सफलता प्राप्त नहीं हटी हैं।कियोकि अधिकतर मुसीबत ही हमें शिक्षा दे जाती है।इसलिए मुसीबत् मैं अपना फायदा खोज़ो हानि नहीं। उधारन में सभी बड़े इंसान।किर्पया इनकी जिन्दगी की कहानी जरूर पढ़िए गा।

Leave a Comment

Connect with



Join Us on WhatsApp