देश में पानी की समस्या – कविता यादव

देश में पानी की समस्या – कविता यादव

दीन प्रतिदिन बड्ती जाए,
बहुत बडी समस्या है
आज अगर ना पकडी डोर ,
तो कल बडी ए घटना है
जमीन ने सोक लीया ,
तो सोचो क्या हो जायेगा
ऍक ग्लास ानी पीा भी,
बोहोत मुश्किल हो जायेगा . हम अन्न कहा से ￰खायेंगे,
और खाना कैसे बनाएंगे
जीवन की सारी दिनचर्या को ,
केसे हम निभाएंगे
दिन प्रतिदिन घट रहा है ,
देशः में जल स्तर
इसकी बर्बादी हो रही है ,
देखो इधर-उधर
रोक लो इसको अपना समझकर,
क्युकी देश तो है अपना घर
देश में पानी की समस्या
रोकना बोहोत जरूरी है
पेड़ – पौधे जगह – जगह लगाये
खलियानो को लहराए
पानी की बर्बादी पर हम मिलकर
एक लगाम लगाए
इसकी बर्बादी पर भी
सरकार कोई कानून￶ बनाये
देश की इस समस्या को
मिलकर साथ नीभाना है
बोहोत बडी समस्या है ए इसका
कोई हल निकालना है
+++++++++++++++++++++++++++++

कविता यादव
भोपाल. म .प्र

0

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account



×
नमस्कार जी!
बताइए हम आपकी क्या मदद कर सकते हैं...