Notification

अपने लेख प्रकाशित करने के लिए यहाँ क्लिक करें!

गलती-माला-चौधरी

हम उसके लिए सिर्फ एक गलती थे
💔
उसने अपनी गलती सुधार ली
ओर हमने अपनी जिंदगी उजाड़ ली
💔
उसके फरेबों को चाहत समझते रहे हम
उसके झूठों को मोहब्बत समझ ली
💔
हम उसके लिए महज एक गलती थे
उसने अपनी गलती सुधार ली
और हमने अपनी जिंदगी उजाड़ ली
💔
उसके मासूम चेहरे के पीछे का शैतान देखा नहीं
उसकी हंसती हुई आंखो के समन्दर में मैने अपनी कश्ती बहा ली
💔
हम उसके लिए महज एक गलती थे, उसने अपनी गलती सुधार ली
और हमने अपनी जिंदगी उजाड़ ली
💔

Leave a Reply

Join Us on WhatsApp