हम तो भारत वासी हैं -उमेश चन्द यादव

हम तो भारत वासी हैं -उमेश चन्द यादव

हम तो भारत वासी हैं , हम तो भारत वासी हैं ,
चलना हमारा काम है , हम करते नहीं आराम हैं ।
जग में ऊँचा नाम है , हम ग्राम निवासी हैं ,
हम तो भारत वासी हैं , हम तो भारत वासी हैं ।।
प्रकृति का है रहम हम पर , चलते हैं सदा खुद के दम पर ,
सर पर है हिमालय सोभता , है मन सभी का लोभता ।
नदियाँ धरा को सींचती , हम देवोपासी हैं ,
हम तो भारत वासी हैं , हम तो भारत वासी हैं ।।
सदाचार हमारी आन है , रहना मिलकर पहचान है ,
अनुशासन नर का है गहना , परोपकार धरम का क्या कहना ।
सत्कर्म करो और फूलो – फलो , यह धरा वीरों की दासी है ,
हम तो भारत वासी हैं , हम तो भारत वासी हैं ।।
कहें उमेश कवि मानवता का , मन में हरदम ध्यान करो ,
जीवन व्यर्थ न होने पाये , जन हिताय कुछ काम करो ।
करो मान गुरु – मात – पिता का , साक्षात देव ये धरा निवासी हैं ,
हम तो भारत वासी हैं , हम तो भारत वासी हैं ।।

 

Umesh Chand Yadav

  उमेश चन्द यादव 
बलिया, उत्तर  प्रदेश

6+

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account



×
नमस्कार जी!
बताइए हम आपकी क्या मदद कर सकते हैं...