पुलिया पर दुनिया- मुनमुन सिंह

पुलिया पर दुनिया- मुनमुन सिंह

अब आ गयी हैं पुलिया पर दुनिया ।।
सुबह बैठते हैं पुलिया पर शराबी ।
दोपहर छिपते हैं जानवर का समूह ।
शाम बैठते हैं आवारो का समूह ।
अब आ गयी हैं पुलिया पर दुनिया ।।
शराबी पैसे उडाते शराबी पीने के लिये ।
जानवरों का समूह छिपता हैं धुप से बचने के लिये ।
अवारे समय गवाते हैं लड़कियों के लिये ।
अब आ गयी हैं पुलिया पर दुनिया ।।
शराबी पीते हैं शराब ।
जानवरों का झुंड महसूस करता आराम ।
अवारे उड़ाते हैं मजाक ।
अब आ गयी हैं पुलिया पर दुनिया ।।

   मुनमुन सिंह

                  मीरजापुर,उत्तर,परदेश

1+

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account