Notification

अपने लेख प्रकाशित करने के लिए यहाँ क्लिक करें!

दावत तो बहुत उड़ायी…-राखी शरण

बगावत तो बहुत,
दिल ने की होगी ,
शरारत तो बहुत,
आंखों ने की होगी,
ताली तो बहुत,
हाथों ने बजायी होगी
दावत तो बहुत,
आपने उड़ाई होगी ,
सोचों क्या कभी थोड़ी बहुत,
ही सही आपने गरीबों की ,
थाली में कभी रोटी पहुंचाई होगी।

राखी शरण

Leave a Reply

Join Us on WhatsApp