देश का जवान शायरी- शोभा सृष्टि

देश का जवान शायरी- शोभा सृष्टि

अपनी चमक बिखेरता वह कोहिनूर रतन होता है ।
बिना रुके उसका कड़ा जतन होता है।

घर -आंगन को छोड बस जाता है सरहद पर।
क्योकि सारे जहां से प्यारा उसे अपना वतन होता है।

 

शोभा सृष्टि
 करौली, राजस्थान

3+

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account