Notification

अपने लेख प्रकाशित करने के लिए यहाँ क्लिक करें!

जब मिले हो तुम( शायरी)-अमित कुमार शर्मा

जब मिले हो तुम मेरी जिन्दगी मे । सपनो के यादो मे बहार बन गये । दस्तक ऐसी दी मेरी जीवन मे तुम | भुलकर भी भुला ना पाये हम |

Leave a Reply

Join Us on WhatsApp