Notification

, शायरी1-साजन

न जाने क्या है तूझमे
जो किसी और में नहीं
तेरे नाम के तो हजार मिल जायेंगे
बस इक तू नही

Leave a Comment

Connect with



Join Us on WhatsApp