Notification

अपने लेख प्रकाशित करने के लिए यहाँ क्लिक करें!

कीमत जिंदगी कि-लेखक-जल्पा-सोलंकी

शाम का वक्त था। पूरा परिवार मिलकर टीवी पर न्यूज देख रहा था। टीवी पर हर जगह बस एक ही न्यूज आ रही थी ओर वो थी कोरोना वायरस के बारे में की किस तरह धीरे धीरे ये वायरस केसे सबको अपनी चपेट में लेे रहा था ओर अब ये वायरस भारत में भी आ चुका था जिसकी वजह से सभी को अपने अपने घरो में ही रहने की हिदायत दी गई थी ।

           उसके बाद दो चार दिन तो सब ठीक चला उसके बाद राहुल जो कभी एक पूरा दिन भी घर में नहीं रहा था वो अब घर में बोर होने लगा घर में उसका मन नहीं लगता था ओर बाहर वो जा नहीं सकता था ।

               एक साम राहुल ने सोचा कि थोड़ी देर बाहर जाने में क्या बिगड़ जाएगा और वो थोड़ी देर बाहर चला गया । ओर उसकी यही गलती उसकी जिंदगी की सबसे बड़ी गलती साबित हुई एक घंटे बाद वो घर आया और फिर खाना खाया और सो गया ।

            अगले दिन सुबह जब वो उठा तो उसकी तबीयत अचानक से बहोत

खराब हो गई ।

          उसके परिवार वाले उसे तुरंत हॉस्पिटल लेकर गए ओर वहा जांच के बाद जब उसकी रिपोर्ट आयी तो सबके होश उड़  गए क्युकी  राहुल की रिपोर्ट कोरोना पोजिटिव आयि थी ।

आज राहुल अस्पताल में है जहां नातो उसके परिवार का कोई सदस्य उससे मिल सकता है ओर ना ही राहुल अब राहुल को भी उसकी गलती का पछतावा था मगर अब उसके पास पछतावा करने के अलावा कोई दूसरा रास्ता नहीं था ।

       कहने का मतलब सिर्फ इतना है कि हमारी थोड़ी सी लापरवाही की कीमत हमारे साथ हमारे परिवार समाज ओर इस देश को भी चुकानी पड़े ही 

क्युकी इंसान से ही समाज बनता है ओर समाज से एक देश ।

                      आओ मिलकर अपना फ़र्ज़ निभाए ।
                           घर में रहकर देश को बचाए !

Leave a Reply

Join Us on WhatsApp