Home » संतोष सिंह " क्षात्र "

संतोष सिंह offline

  • 38

    posts

  • 0

    comments

  • 830

    Views

हमसे कह रहा कोरोना

चीन से मित्रता -- करो - ना चीन से व्यापार -- करो - ना चीनी सामान उपयोग -- करो - ना चीन का...

read more

परमात्मा रोया होगा

कुछ पढ़े लिखे मुर्खो के कारण कितनों ने अपनों को खोया होगा। स्वयं की रचना पर सोच परमात्मा फुट-फुट कर रोया होगा।। विज्ञान युग का था अंहकार शायद स्वपन...

read more

नववर्ष (संवत्सर)

उठी लहरें मन में कल नववर्ष बधाई। ऊषा की बाट जोह रहे नभ में लालिमा छाई।। गगन सिंदूरी चादर में लिपट रहा ले अंगड़ाई। हो उठे रोमांचित...

read more

गाँव की गौरैया

(विश्व गौरैया दिवस २३ मार्च के अवसर पर सादर प्रस्तुत) बीन-बीन के तिनका लाय गयी देखो। छाजन में नीड़ बसाय गयी देखो।। किसम-किसम खर किये ठेर गयी...

read more

हमारा भारतवर्ष

हमारा प्यारा भारत-वर्ष। यहां किसान करते संघर्ष।। मेहनत करके फसल उगाते। गीत गरीबी का गाते।। सरकार न रखती इनका ध्यान। क्योंकि अशिक्षित है सभी किसान।। देश के कहलाते हैं पालन-हार। अपने...

read more
Please wait ...

About me

संतोष सिंह क्षात्र

प्रकृति🌿🍃 रक्षित रक्षितः {यदि आप प्रकृति की रक्षा करोगे, तो प्रकृति आपकी रक्षा करेगी। }

मैंने परास्नातक की शिक्षा भूगोल विषय से प्राप्त किया, मेरी प्रथम कविता छात्र जीवन में ही प्रकाशित हुई, जिसकी यात्रा अनवरत चल रही है। मुझे लेखन का वरदान प्रदान करने के लिए, माँ वाग्देवी का शत् शत् नमन् करता हूँ। !! हर हर महादेव !!

Friends

Profile Photo
Suraj-Awasthi
@suraj-awasthi
Profile Photo
POEMS-BY-NARENDRA-NAYAK
@poems-by-narendra-nayak
Profile Photo
kavi-shalendra
@kavi-shalendra
Profile Photo
Ashish Ghorela
@ashish-ghorela-founder-md-of-dishalive
Profile Photo
manjitchetry
@manjitchtry

E-mail Address

Address

Kashinagari, up

Phone Number

9452723237

sponsored

sponsored