Home » Shiv

Shiv Mishraoffline

  • India, Lakhimpur kheri
  • 5

    posts

  • 1

    comments

  • 0

    Views

साये यादों के सताते हैं मुझे

-:मुक्तक:- साये यादों के सताते हैं मुझे। अब सारी रात जगातें हैं मुझे। मेरी किस्मत में ही नहीं मंजिल- रास्ते.. अहसास कराते हैं मुझे। ================= स्वयं दिल के ही हांथो...

read more

हाइकू

हाइकू" देखे सपने जरुरत में वैसे मेरे अपने।01 मुसीबतें ही सिखाती हैं हमको ढंग जीने का ।02 साथ उनका चहिए था जिनका मिला ही नहीं।03 जंग अक्सर लडी़ उनके लिए थे जो पराये।04 दिल हमारा रहते थे इसमें तोडा़...

read more

कुंडलिया छंद

कुंडलिया रुद्राणी गौरी सती, दुर्गा शक्ति अनूप। पार्वती जगदम्बिका, तेरे कई स्वरूप। तेरे कई स्वरुप, ...

read more

दोहे

वरद हस्त रख शीश पर, निर्मल करो शरीर। सिद्धिदात्रि मां करि कृपा, हरो सकल जन पीर।1 होती कन्या भ्रूण की, जब हत्याएं रोज़। तब कैसे नवरात्र में,...

read more

कोरोना कुंडलिया

01 आई मुश्किल की घडी़, सुन लो करुण पुकार। विपदाएं जग की हरो, जग के पालनहार। जग के पालनहार, कहर कोरोना ढाए। विचलित हृदय अपार, रोग जो बढ़ता...

read more
Please wait ...

Friends

Profile Photo
ganesh-jadhav
@ganesh-jadhav
Profile Photo
Preeti-Tiwari
@preeti-tiwari
Profile Photo
Suraj-Awasthi
@suraj-awasthi
Profile Photo
Nikita Rajput
@niketa
Profile Photo
Adesh Kumar
@aa4420374gmail-com

sponsored

sponsored