Notification

अपने लेख प्रकाशित करने के लिए यहाँ क्लिक करें!

Shyam Kunvar Bhartioffline

  • 253

    posts

  • 3

    comments

  • 4

    Views

  • फेरिहा ये मइया

    भोजपुरी देवी गीत –फेरिहा ये मइया |
    नजरिया तनी हमरो पर फेरिहा ये मइया |
    सुधिया तनी हमरो आज लिहा ये मइया |
    सब के त दिहलु माई अन धन सोनवा |
    अंधरन के अँखिया बाझिन के ललनवा |
    चरनिया तनी डलतू हमरो टूटही…

    read more

  • फिर उहे दिनवा |

    भोजपुरी गीत- फिर उहे दिनवा |
    फिर उहे दिनवा लउटिहे की नाही |
    रोवत चिरइया कबों चहकीहे की नाही |
    फिर उहे दिनवा लउटिहे की नाही |
    छाईल बा सगरो कोरोनवा के कहरिया |
    बंद भइले माल सगरो बंद बा बज़रिआ |
    बगिया बहार कली…

    read more

  • सुना घर परिवार बिना |

    हिन्दी गीत- सुना घर परिवार बिना |
    प्रिया प्रिय बिना देह हिय बिना |
    नीर क्षीर बिना भोजन खीर बिना |
    उत्सव उदास उपहार बिना |
    सुना घर परिवार बिना ठौर कहा घरवार बिना |
    खेत अन्न बिना कोष धन बिना |
    विचार मन बिना…

    read more

  • भूख के मारे हुये है |

    गजल- भूख के मारे हुये है |
    भूख ले आई शहर हम भूख के मारे हुये है |
    छोड़ चले शहर को हम भूख के सताये हुये है |
    कोरोना के कहर ने बदल दी है जिंदगी मेरी |
    वाइरस से पहले भूख…

    read more

  • बलमुआ ना अईले |

    भोजपुरी गीत = बलमुआ ना अईले |
    धक धक धड़के मोर छतिया |
    हे सखी मोर बलमुआ ना अईले |
    नींदिया ना आवे सारी रतिया |
    हे सखी मोर बलमुआ ना अईले |
    लोगवा कहेला देशवा कोरोनवा आइल बा |
    लागल लोकडाउनवा कहा सजनवा भुलाइब…

    read more

  • बलमुआ ना अईले |

    भोजपुरी गीत = बलमुआ ना अईले |
    धक धक धड़के मोर छतिया |
    हे सखी मोर बलमुआ ना अईले |
    नींदिया ना आवे सारी रतिया |
    हे सखी मोर बलमुआ ना अईले |
    लोगवा कहेला देशवा कोरोनवा आइल बा |
    लागल लोकडाउनवा कहा सजनवा भुलाइब…

    read more

  • चंद मुक्तके – विजय हमारी है |

    चंद मुक्तके – विजय हमारी है |

    प्रभु की माया होगा कोरोना का सफाया |
    इसी मंसा मोदी ने लोक डाउन लगाया |
    चहुं ओर मचाया हाहाकार छुपा दुशमन |
    धीरे धीरे सबने मिलकर है असर घटाया ||1||

    लौटकर खुशी फिर घर सबके लुभाने…

    read more

  • अबतक तो जीते है हम आगे भी जीत लेंगे|

    कविता- जीत लेंगे |
    अबतक तो जीते है हम आगे भी जीत लेंगे|
    विजय भारत नाम इतिहास पन्नो लिख लेंगे |
    लड़ी है लड़ाइया कितनी हार ना मानी हमने |
    छुपे दुश्मन कोरोना को हम बाहर खींच लेंगे |
    भारत हर खासो आम देश…

    read more

  • बलमुआ ना अईले |

    भोजपुरी गीत = बलमुआ ना अईले |
    धक धक धड़के मोर छतिया |
    हे सखी मोर बलमुआ ना अईले |
    नींदिया ना आवे सारी रतिया |
    हे सखी मोर बलमुआ ना अईले |
    लोगवा कहेला देशवा कोरोनवा आइल बा |
    लागल लोकडाउनवा कहा सजनवा भुलाइब…

    read more

  • पूर्वी गीत- कोरोनवा के कहरवा |

    भोजपुरी पूर्वी गीत- कोरोनवा के कहरवा |
    कईसे रही सइया जी गिनी गिनी दिनवा |
    डर लगेला ये राम कोरोनवा के कहरवा |
    मोदी जी लगवले सइया देशवा मे लोकडवना |
    हिया छटपटाला ये राम बंद रहल घरवा |
    सुनू सुनी दुनिया के हलिया…

    read more

  • कौन जानता था |

    कविता- कौन जानता था |
    कर्मवीर होंगे बेचैन अपने घर कौन जानता था |
    राह निहारेंगे कब ताला खुलेगा कौन जानता था |
    आयेगा ऐसा भी एकदिन देखेगी दुनिया दुर्दिन |
    इसान खुली हवा को तरसेगा कौन जानता था |
    बाग बगीचा माल बाजार…

    read more

  • आफत मे पड़ल जान |

    भोजपुरी गीत- आफत मे पड़ल जान |
    गरवा मे अटकल मोर परान गोरिया |
    आफत मे पड़ल अब जान गोरीया |
    तोहरो सुरतिया मोबाइल मे निहारीला |
    बैरी कोरोनवा के बेर बेर धिक्कारीला |
    सगरो नगरिया लउके सुनसान गोरिया |
    आफत मे पड़ल…

    read more

  • होले होले डोले |

    भोजपुरी गीत – होले होले डोले |
    तन मोरा होले होले डोले |
    मन मोरा डरे डरे बोले |
    कोरोना केहु जान ना ले ले |
    तन मोरा होले होले डोले |
    आइल कहा से बैरी कोरोनवा |
    घाइल भइल सगरो जमनवा |
    डरे केहु दुअरिया…

    read more

  • हम साथ रहेंगे साथ लड़ेंगे

    हिन्दी गीत – साथ लड़ेंगे |
    हम साथ रहेंगे साथ लड़ेंगे |
    कोरोना से ना हम डरेंगे |
    साथ जिएंगे साथ मरेंगे |
    कोरोना से ना हम डरेंगे |
    छाया विश्व जगत मे अंधेरा |
    कब होगा दुनिया मे शबेरा |
    दुशमन हराकर हम रहेंगे |
    कोरोना…

    read more

  • sunil-kohali

    @sunil-kohali

    liked this
  • लुका जाला केहु |

    भोजपूरी गीत – लुका जाला केहु |
    कोरोना से जेतना जब डरा जाला केहु |
    बच जाला जब घरवा लुका जाला केहु |
    एकरा ज़ोर देखवला मे भलाई नईखे |
    जान आपन बचवला जग हँसाई नईखे|
    निकलल जे बाहर कोरोना धरा जाला केहु|
    सर्दी…

    read more

  • तो बच जाने दो |

    कविता – तो बच जाने दो |
    बढ़ गया लोक डाउन तो बढ जाने दो |
    जान है जरूरी माल से तो बच जाने दो |
    इतने दिन बीते कुछ दिन और गुजारेंगे |
    घर की बिखरी चिजों को थोड़ा सवारेंगे |
    आखिर कट…

    read more

  • भीम हमारा अभिमान |

    अंबेडकर जयंती कि हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाये
    कविता – भीम हमारा अभिमान |
    किया निर्माण जो भारत का सविंधान |
    सत सत नमन भीम हमारा अभिमान |
    दिलाया अधिकार सबको जिसने समान|
    बाबा भीम को करता नमन हिंदुस्तान |
    दबे कुचले दलित पिछड़े राह दिखाई…

    read more

  • भोजपुरी गीत- करा ना नादानी पिया |

    भोजपुरी गीत- करा ना नादानी पिया |
    माना मोर कहनवा करा ना नादानी पिया |
    घरवे मे रहा मती जा खरिहानी पिया |
    फइलल बा कोरोनावा सगरो नगरिया |
    मती जा बहरिया रहा हरदम पजरिया |
    पड़ल बा बज़रिआ अब सुनसानी पिया |
    घरवे…

    read more

  • Load More Posts

Friends

Profile Photo
sunil-kohali
@sunil-kohali
Profile Photo
Arvind Kumar Singh
@arvindkumarsingh
Profile Photo
Ashish
@dishalive-group
Profile Photo
Amit-Ghorela
@amit-ghorela

sponsored

sponsored