Notification

अपने लेख प्रकाशित करने के लिए यहाँ क्लिक करें!

प्रसाद योजना से धार्मिक पर्यटनस्थलों का विकास-वीरेंद्र देवांगना

प्रसाद योजना से धार्मिक पर्यटनस्थलों का विकासः
धार्मिक स्थलों को संवारने के लिए केंद्र सरकार की 2014-15 में आरंभ की गई प्रसाद योजना में छग के राजनांदगांव जिले के डोंगरगढ़ स्थित मां बम्लेश्वरी देवी मंदिर को भी 6 नए स्थलों में शामिल किया गया है। बम्लेश्वरी देवी मंदिर के लिए 43 करोड़ रुपया जारी की गई है।
प्रसाद योजना का उद्देश्य धार्मिक स्थलों के विकास के साथ-साथ स्थानीय संस्कृति और कला का संरक्षण करना है। शेष 5 नए स्थल हैं-मप्र का अमरकंटक, त्रिपुरा का त्रिपुर सुंदरी मंदिर, तेलंगाना का जोगुलंबा देवी मंदिर, अरुणाचल प्रदेश का परशुराम कुंड और सिक्किम का युकसोम।
इन छह नए स्थलों के लिए पर्यटन मंत्रालय ने कुल 268 करोड़ से ज्यादा की राशि स्वीकृत की है, जिसमें अमरकंटक के लिए स्वीकृत 50 करोड़ की राशि भी समाहित है।
पर्यटन मंत्रालय के अनुसार, प्रसाद योजना में अब तक देश के 30 धार्मिक स्थलों को सम्मिलित किया गया है। नए 6 स्थलों को मिलाकर इनकी संख्या 36 हो गई है।
पहले स्वीकृत 30 स्थलों में-से 8 स्थलों पर विकास कार्य पूर्ण हो चुका है, जबकि 24 स्थलों पर निर्माणकार्य जारी है।
इसमें केदारनाथ, वाराणसी, कामाख्या, मथुरा, गया, द्वारका, अमृतसर और पुरी जैसे धार्मिक पर्यटन स्थल शुमार किए गए हैं।
–00–

Leave a Reply

Join Us on WhatsApp