Notification

अपने लेख प्रकाशित करने के लिए यहाँ क्लिक करें!

You can heal your life (by louise hay)-नेदिता

part 2
Louise hay के द्वारा लिखी ये book 1984 में publish की गयी थी जोकि एक american author थी। इस book में author कई बाते बताती हैं जैस कि हमने पहले ही पढा़ था।
1. “let go of the past forgive” मतलब उन्होंने बताया कि किस तरह हमें अपने past को भूल जाना चाहिए और आने वाले future को ध्यान में रखना चाहिए वह बताती हैं कि जब तक हम अपने past को भूलना नहीं सीखेंगे तब तक हम अपने future को कभी भी secure नहीं कर सकते।
2. “body and mind” louise का कहना था कि हमारी बॉडी और माइंड आपस में interconnect है यानी कि अगर हमारी बॉडी को कोई परेशानी होगी तो हमारा माइंड किसी भी अच्छी चीज को जल्दी adopt नहीं कर सकता, अगर हमारा माइंड डिस्टर्ब है तो वह बॉडी को सही अप्रोच नहीं दे सकता। दोनों में कोआर्डिनेशन जरूर होना चाहिए वह मानती थी कि अगर बॉडी के किसी भी एक बार चाहे वह माइंड हो या बॉडी का कोई और part हो अगर उसमें कोई प्रॉब्लम है तो है अन्य पाठ को भी डिफेक्ट करेगा
उनका मानना था कि हमें अपने सही रास्ते पर फोकस करना चाहिए यानि सही चीजों को अपनाना चाहिए अगर कोई नेगेटिविटी हमें किसी चीज को अपनाने से रोकती है तो हमें उस नेगेटिविटी को अपने से दूर करना होगा और अपनी लाइफ में पॉजिटिव एटीट्यूड लाना होगा यानी कि हम यह कह सकते हैं कि अगर हम अपनी लाइफ में कुछ करना चाहते हैं, कुछ पाना चाहते हैं या कुछ बनना चाहते हैं तो इसके लिए हमें अपने सारी बातो को भूलकर चीजों को जिस तरीके से वह है उसी में एक्सेप्ट करना होगा हमें अपने बॉडी और माइंड का पूरी तरीके से ख्याल रखना होगा। हमें सारी पुरानी बातों से को भूलना होगा। अपने बुरे विचारों को अपने आप से दूर करना होगा। अपने नेगेटिव एटीट्यूड को पॉजिटिव एटीट्यूड में चेंज करना होगा।
मेरा मानना है कि book reader को इसमें लिखी हुई बातें पसंद आऐगी और वे अपनी life को best तरीके से positive attitude के साथ जिऐगे।

Leave a Reply

Join Us on WhatsApp