Notification

अपने लेख प्रकाशित करने के लिए यहाँ क्लिक करें!

Tag: Sony Kumari

टूटे ख्वाब-सोनी कुमारी

सारे दुआओ में मैंने सिर्फ उसे  मांगा, सिवा उसके किसी को ना चाहा, आज भी उसकी नादानियां याद आती हैं, जैसे लगता कुछ नहीं खोया

Read More »

मां- पापा – सोनी कुमारी

मैं हरी-भरी फूलों की डाली, मां- पापा माली बन मुझे सिंचते रहते हैं, मैं भी रहती हरी-भरी, जब दोनों, हरी-भरी मुस्कान ले के मेरे सामने

Read More »

तुझ बिन पिया ये होली, मुझको राश न आयी रे – सोनी कुमारी

तुझ बिन पिया ये होली , मुझको राश न अाई रे, तेरी ही याद पिया, और तेरी ही तन्हाई ये, तुझ बिन पिया ये होली,

Read More »

तेरे बिन अधूरी लगे मेरी तकदीर – सोनी कुमारी

कब तक देखती रहुं तेरी तस्वीर, जी एक पल भी नहीं लगता, जो न देखु एक पल तुझे लगुं बुझी-बुझी सी, कुछ हममें तुम, कुछ

Read More »

ईच्छा है कुछ करने दो – सोनी कुमारी

है यही उमंग, ईच्छा है कुछ करने दो, फूलों की मोहक हंसी बन मुझे खिलने दो, बन के पक्षी हमें भी आसमान में उड़ने दो,

Read More »

दिल की जुवां – सोनी कुमारी

ईश्वर सुने युं दिल की जुवां, बैरी क्युं मुंह लगाये, इस हंसी दास्ता को आऔ हवाओं को सुनाये, सावन की ये झड़ी , गीत सुनाये

Read More »

रात भी भर रहीं है आहें !! – सोनी कुमारी

भर रही है आहें, ये रात मेरे साथ बांहे, तेरी यादें हैं, खट्टी-मिठी बांते हैं, हम हैं अकेलेे, उलझनें सुलझाने आ मेरी, दे दे अपनी

Read More »