Start From Little Thing – Sharanjeet Kaur

Start From Little Thing – Sharanjeet Kaur

If you want change the world start off by making your bed if you make your bed every morning you will have accomplished the first task of the day it will give you a small sense of pride and it will encourage you to do another task and another, and another by the end of
Complete Reading

आत्मविश्वास – दिशा शाह

आत्मविश्वास से बढ़कर कोई बल नही इस दुनिया में .खुद की नजरो में आगे बढ़ने के लिए .जो इंसान खुद पर यकीन नहीं करता वो कैसे आगे बढ़ पाएगा . चाहे कोई भी कृति /प्रोफेशन हो सबसे पहले खुद पर विश्वास होना जरूरी है. चाहे आप चार्टर्ड एकाउंट करो या अन्य बिज़नेस हो या कोई
Complete Reading

ईश्वर कौन है – सुशिल कुमार शर्मा

परमात्मा की प्यारी आत्माओं, भक्ति के क्षेत्र में एक अत्यंत ही जरुरी और महत्वपूर्ण पहलू होता है “गुरु” का जिसके बगैर हम इस संसार सागर से पार नहीं हो सकते| गुरु महिमा के विषय में गोस्वामी तुलसी दास जी लिखते हैं:- गुरु बिन भव निधि तरई न कोई| जो विरंची शंकर सम होई || अर्थात
Complete Reading

विश्वासघात – जीतू दास

इक गांव में इक लड़का रहता था।लड़के के माँ बाप ने अपने बेटे को खूब लाड़ प्यार से परवरिस की और उच्च शिक्षा दिलाई ।लड़के ने भी बहुत महेनत कर अपनी पढाई पूरी की कुछ समय बाद लड़के की महेनत रंग लाई उसकी इक बहुत बड़ी कंपनी में नोकरी लग गई । लड़के के माँ
Complete Reading

तमाचा(दहेज लोभियों के मुँह पर प्ररेणादायक कहानी) – राहुल सिंघल

अपनी नई नवेली दुल्हन प्रिया को शादी के दूसरे दिन ही दहेज मे मिली नई चमाचमाती गाड़ी से शाम को रवि लॉन्ग ड्राइव पर लेकर निकला ! गाड़ी बहुत तेज भगा रहा था , प्रिया ने उसे ऐसा करने से मना किया तो बोला-अरे जानेमन ! मजे लेने दो आज तक दोस्तों की गाड़ी चलाई
Complete Reading

नारी शक्ति – दिशा शाह

नारी में जो शक्ति है इस दुनिआ में कही और ऐसी शक्ति देखने को नहीं मिलेगी . नारी में जो ताकत है जो पावर है . जो किसी में नहीं , जो भी गलत हो रहा हो नारी खुद की शक्ति का प्रयोग कर के गलत को रोक सकती है . आज कल हर क्षेत्र में नारी कहा
Complete Reading

परिवार – दिशा शाह

परिवार दो तरह का होता है एक होता है एकल परिवार हो जिसमें दादा दादी माता , पिता , और बेटा , बेटी रहते है. और दुसरा होता है सयुक्त /जॉइंट फॅमिली .जिसमें दादा दादी , माता , पिता , बेटा , बेटी , चाचा , चाची के बीटा , बेटी रहते है . परिवार
Complete Reading

नशा (नाश शरीर का अर्थार्त मौत ) – सुरेश कुमार वर्मा

एक बार एक महात्मा जी थे। वे हर रोज तालाब में स्नान करने जाते, तब रास्ते मे एक शराबी उन्हें हर रोज प्रणाम करता। लेकिन महाराज जी उसके प्रणाम का कोई जवाब दिए बिना ही अपने आश्रम की और चले जाते। एक दिन वह शराबी माहत्मा जी का रास्ता रोक के खड़ा हो गया और
Complete Reading

प्यार क्या है ? – दिशा शाह

आज कल लोगो का मानना ये की प्यार करना होता हैं. लेकिन प्यार तोह हो जाता हैं.प्यार भगवान का दिआ हुआ फरिस्ता हे, प्यार एक अहसास हैं ,कभी भी किसी के साथ हो जाता है. प्यार का एहसास हमेशा दो तरफ से होता है. प्यार में स्वार्थ नहीं होता कभी. बल्कि हमेशा दूसरे व्यक्ति को
Complete Reading

योग्यता/ टैलेंट – दिशा शाह

योगयता /टैलेंट हर कोई में होता है . इस दुनिआ में कोई ऐसा सक्ष नहीं दिखाई दे रहा हों जिसके अंदर टैलेंट ही ना हो कभी ऐसा हो ही नहीं सकता , क्यों की भगवान ने हरेक इंसान को बुद्धि दी है . बुद्धि का उपयोग से इंसान कहा से कहा आगे जा सकता है.
Complete Reading

Create Account



Log In Your Account