Join Us:
20 मई स्पेशल -इंटरनेट पर कविता कहानी और लेख लिखकर पैसे कमाएं - आपके लिए सबसे बढ़िया मौका साहित्य लाइव की वेबसाइट हुई और अधिक बेहतरीन और एडवांस साहित्य लाइव पर किसी भी तकनीकी सहयोग या अन्य समस्याओं के लिए सम्पर्क करें

Komal Kumari

Komal Kumari

Komal Kumari

@ komal-kumari
, Jharkhand

#Mujhko pasand hai khud Ko hi padhna ek kitab hai mujhmein Jo mujhe aajmati hai. @ham Apne jivan ka lekhak khud hai jab man Karega chapter Badal denge...☺️

  • Followers:
    1
  • Following:
    0
  • Total Articles:
    49
Share on:

My Articles

सुंदरता सस्ती है, 'चरित्र' महंगा है घड़ी सस्ती है, 'समय' महंगा है शरीर सस्ता है, 'जीवन' महंगा है रिश्ता सस्ता है, लेकिन 'निभाना' महंगा है!!! read more >>
जिंदगी की कसमकस मे ऐसे उलझे हैं, सभी की चेहरे पर झूठी अदाकारी के मुस्कान लिए कर रहे हैं। read more >>
घड़ी की फितरत ही अजीब है हमेशा टिक टिक करती हैं मगर ना खुद टिकती हैं और ना दूसरे को टिकने देती हैं ।। read more >>
जज्बातों की कदर करने वाले महिला और पुरुषो को रोता हुआ देखा गया है खुशनसीब तो वह स्त्री और पुरुष है,जो दिलों को खिलौना समझकर कर खेल जाते read more >>
मर्द की खूबसूरती उसके चेहरे में नहीं अल्फाज में होते हैं.. और औरत की खूबसूरती उसके समर्पण से होती है..!! read more >>
शर्म और हया जिस लड़की में हो उससे ज्यादा खूबसूरत कोई नहीं और मर्यादा जिस पुरुष में हो उससे बड़ी कोई बात नहीं...!! ... read more >>
इस कलयुग में सबसे मंहगा है तो वह है दो तरफा मोहब्बत मोहब्बत से भी मंहगी है सुकुन सुकुन से भी मंहगा है धैर्य धैर्य से भी मंहगा है विश्वा read more >>
सुना भी कुछ नही, कहा भी कुछ नहीं पर ऐसे बिखरे हैं जिंदगी की कशमकश में कि टूटा भी कुछ नहीं और बचा भी कुछ नहीं...!! read more >>
Join Us: