Notification

हम अजनवी है तेरे इस सहर मे-डॉ.सतीश चंद्र

हम अजनबी है तेरे इस शहर में
तेरे साख पर मेरा कुछ दिन का ठिकाना है ।
तू मत बुन अपने सपनों को रिश्तो से
तेरा शहर छोड़ एक दिन हमें चले जाना है।
……✍️ Satish Chandrra

Leave a Comment

Connect with



Join Us on WhatsApp