जीवन में कठिनाइयां - Chanchal chauhan

जीवन में कठिनाइयां     Chanchal chauhan     आलेख     अन्य     2022-08-16 13:23:29     जीवन की दुविधा     46763           

जीवन में कठिनाइयां

जीवन में बड़ी दुविधा है,
जीवन के रास्ते में कठिनाइयां हैं,
हर दौर से निकल कर फिर जीना हैं,
गिरते पड़ते ही रास्ते को पार करना है।

Related Articles

माँ के ममता का वर्णन
RANJIT MAHATO
मैं वर्णन करना चाहता हुँ माँ के ममता का लेकिन मेरी कलम की स्याही ही काम पड़ जाती है मैं वर्णन करना चाहता हुँ माँ के आ
8766
Date:
16-08-2022
Time:
23:09
Writer by Iqrar Ali (आई क्यू) झूठी मोहब्बत शायरी
Iqrar Ali (आई क्यों )
मोहब्बत ही बदनाम है, दुनिया में और लोग वफाई भी उसी में दूंढते हैं
274
Date:
16-08-2022
Time:
17:24
कोई लौटा दे वो दिन
Adesh dev anand
कोई लौटा दे वो दिन , जिसमें खेला था मेरा बचपन।। चू -चू कर चिड़िया आती थी, बिखरे दाने चुन -चुन आंगन से खाती थी। मैं दौड
5813
Date:
16-08-2022
Time:
22:33
Please login your account to post comment here!