कश्मीर के हालात-राकेश कुमार

कश्मीर के हालात-राकेश कुमार

कश्मीर को धरती का स्वर्ग कहा जाता है मगर वर्तमान के हालात ने कश्मीर की सुख शांति छीन ली है दिन प्रतिदिन कश्मीर के हालात बाद से बतर होता जा रहे है आये दिन रोज़ आम शहरी फ़ौज के जवानों के हाला सामने आते है आम शहरी अपने आप को माफूज़ नही समजता है दिन प्रतिदिन पड़े लिखे नो जवान आतंकी संगठनों मैं शमल होते जा रहे है पिछले 6 महीने से कश्मीर के हालात बहुत खराब है 6 महीने में आतंकि संगठनो के प्रमखु को मौत के घाट उतार गया है और कई फौजी जवान शहीद हुए है पथर बजी के चलते भी आम शहरी और सुरक्षाबलों को नुकसान पहुचा है पथर बाज़ी करने वाले युवको को भड़कया जाता है और उन्हें पैसे देकर सुरक्षाबलों पर पथर बाज़ी करने के लिए उकसाया जाता है दिन प्रतिदिन औरते विधवा और बच्चे अनाथ हो रहे है
सेना दुवारा चलायें गए ऑपेरशन आल आउट से भी हालत में कोई नया सुधार नही हुआ है हमारा हमसाया मुल्क पाकिस्तान का कश्मीर के बिगड़ते हालत के लिए ज़िम्मेदार हैं वह अपनी ज़िमीन का इस्तमाल घुसपैठ के लिये करता है और आतंकी संग़ठनओ प्रमुखो को अपने मुलख मैं जगह दी है वह
अंतर्राष्ट्रीय मंच पर भी कश्मीर का मुदा उठता है परंतु जब अंतर्राष्ट्रीय मुलख उसको आतंक वाद पर करवाई के लिए दबाव बनाते है तो वह चुपी साध के बैठ जाता है कश्मीर मैं घुसपैठ पकिस्तान करता है और कश्मीर की भोली भली जनता को भारत के खलाफ उकसाता है कश्मीर की अवाम अमन पसंद है वह भाईचारे पर विशवास करते है वह दुनिया भर मैं अपनी मेहमान नवाज़ के लिए जाने जाते है टूरिस्ट यह पर शोक से आते है मगर हालात की वजह से इनका आना भी अब कम हो रहा है टूरिसम कश्मीर की रीढ़ की हड्डी है इसी की वजह से कश्मीर के लोग दो वक़्त की रोटी खाते हैं कश्मीर एक पोलिटिकल इशू है इसको बातचीत के ज़रिया सुलझय जा सकता है इस का हल गोली नही बोली है अगर हमे कश्मीर में अमन बहाल करना है तो ये खून खराबा रोकना होगा

 

Rakesh Kumar Mastanaराकेश कुमार

डोडा ,जम्मू ,कश्मीर

Rakesh Kumar

मैं राकेश कुमार कोसी कलान मथुरा उत्तरप्रदेश का निवासी हूँ। मैं वीर रस और श्रृंगार रस का कवि हूँ।

Visit My Website
View All Articles

I agree to Privacy Policy of Sahity Live & Request to add my profile on Sahity Live.

5+

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account