Notification

अपने लेख प्रकाशित करने के लिए यहाँ क्लिक करें!

[जिंदगी चलती रहती है]-

जिंदगी चलती रहती है
अपनी जेबें भरना
समय बीतता है
दिन-रात भाग रहा है
सब खो दिया है
जब सुख खरीद रहे हो
एक पल के लिए भी हंसी
लोग महंगे हो गए
भूल गए पोते
जब सब पास है
दौड़ती हुई जिंदगी
पर्स में रहते हैं
ज़िन्दगी गुलज़ार है
कोई नहीं देख रहा है
बस जलना शुरू करो
किसी के पास समय नहीं है
दोस्तों के साथ बैठो
आज कोई बात नहीं कर रहा है
खुशी के बाद भाग रहा है
आज आदमी खो गया है
सुख को हाथ से छोड़ना
दुख पीछे है
जीवन क्या है
आज कोई नहीं जानता था
अस्तित्व की गुप्त पहेली
कोई समझा नहीं

Leave a Reply

Join Us on WhatsApp