राजनीति -रोहिताश सिंह

राजनीति -रोहिताश सिंह

हमारे देश की राजनीति में ,
कोइ आता कोई जाता है,
कही कमल, कही हाथ,और कही हाथी,
चुनाव चिन्ह बन जाता है,
आरोपो और प्रतयारोपो के होते खूब तमाशे,,
छोटी छोटी बातों पर भी सरकार गिर जाती है,
हम और आप इस खेल के अंपायर से होते हैं,
जहा एक उंगली के पॉवर से भी सत्ताये हिल जाती है,
हर गली, हर नुक्कड पे, यह चर्चा आम हो जाती है,
कौन हाथी,कौन हाथी, कौन कौन कमल का साथी है,
चुनावी वादो का कायदा लेकर हर बार ये आते है,
कभी बिजली ,कभी पानी ,कभी भ्रष्टाचारऔर कभी कभी सड़को के गड्डो पर पंचायत तक हो जाती है,
प्रस्ताव और अविशवास प्रस्ताव में,
सरकारे फस जाती है ,
जनता की कोई खैर ना मांगे,
सबके सब भोग विलासी है
नियमों कि गिलोल बनाकर नियम तोडे जाते है,.

 

   रोहिताश सिंह

 अलवर, राजस्थान

1+

Leave a Reply

Create Account



Log In Your Account