Notification

अपने लेख प्रकाशित करने के लिए यहाँ क्लिक करें!

दुआ-चंचल-चौहान

सब खुश रहे ये दुआ करते हैं, कोई रूठ जाता है कोई छूट जाता है, अपना हो या कोई पराया, सब सलामत रहे यह फरियाद करते हैं।

Leave a Reply

Join Us on WhatsApp